Tag

वीडियो

Poetry

नमन् अनिर्वच ! ( गांधी जयंती पर विशेष )

Gandhi_Jayanti

पूर्व और पश्चिम की संधि पर खड़े युगपुरुष ! तुम सदैव भविष्योन्मुख हो, मनुष्यत्व की सार्थकता के प्रतीक पुरुष हो, तुम घोषणा हो मनुष्य के भीतर छिपे देवत्व के और तुम राष्ट्र की भाव-प्रसारिणी प्रवृत्तियों का विस्तरण हो । अहिंसा…

Ramyantar

मलहवा बाबा फिर आ गये …

ढोलक  टुनटुनाते हुए, इस वर्ष भी गाते हुए बाबा आ गये । हमने कई बार अपना ठिकाना बदला- दो चार किराये के घर, फिर अपना निजी घर; बहुतों की संवेदना बदली- पर बाबा आते रहे । मैं उन्हें मलहवा बाबा…