Tag

nobel prize

Ramyantar, Translated Articles, Translated Works

पुस्तक को असमय श्रद्धांजलि (The Premature Obituary of the Book)-7

साहित्य क्यों? (Why Literature ?): मारिओ वर्गास लोसा (Mario Vargas Llosa) प्रस्तुत है पेरू के प्रख्यात लेखक मारिओ वर्गास लोसा के एक महत्वपूर्ण, रोचक लेख का हिन्दी रूपान्तर । ‘लोसा’ साहित्य के लिए आम हो चली इस धारणा पर चिन्तित…

Ramyantar, Translated Articles, Translated Works

पुस्तक को असमय श्रद्धांजलि (The Premature Obituary of the Book)-6

साहित्य क्यों ? (Why Literature ?) : मारिओ वर्गास लोसा (Mario Vargas Llosa) प्रस्तुत है पेरू के प्रख्यात लेखक मारिओ वर्गास लोसा के एक महत्वपूर्ण, रोचक लेख का हिन्दी रूपान्तर । ‘लोसा’ साहित्य के लिए आम हो चली इस धारणा…

Ramyantar, Translated Articles, Translated Works

पुस्तक को असमय श्रद्धांजलि (The Premature Obituary of the Book)-5

साहित्य क्यों ? (Why Literature ?) : मारिओ वर्गास लोसा (Mario Vargas Llosa) प्रस्तुत है पेरू के प्रख्यात लेखक मारिओ वर्गास लोसा के एक महत्वपूर्ण, रोचक लेख का हिन्दी रूपान्तर । ‘लोसा’ साहित्य के लिए आम हो चली इस धारणा…

Ramyantar, Translated Articles, Translated Works

पुस्तक को असमय श्रद्धांजलि (The Premature Obituary of the Book)-4

साहित्य क्यों? (Why Literature?): मारिओ वर्गास लोसा (Mario Vargas Llosa) प्रस्तुत है पेरू के प्रख्यात लेखक मारिओ वर्गास लोसा के एक महत्वपूर्ण, रोचक लेख का हिन्दी रूपान्तर । ‘लोसा’ साहित्य के लिए आम हो चली इस धारणा पर चिन्तित होते…

Ramyantar, Translated Articles, Translated Works

पुस्तक को असमय श्रद्धांजलि (The Premature Obituary of the Book)-3

साहित्य क्यों ? (Why Literature ?) : मारिओ वर्गास लोसा (Mario Vargas Llosa) प्रस्तुत है पेरू के प्रख्यात लेखक मारिओ वर्गास लोसा के एक महत्वपूर्ण, रोचक लेख का हिन्दी रूपान्तर । ‘लोसा’ साहित्य के लिए आम हो चली इस धारणा…

Ramyantar, Translated Articles, Translated Works

पुस्तक को असमय श्रद्धांजलि (The Premature Obituary of the Book) – 2

साहित्य क्यों? (Why Literature ?):मारिओ वर्गास लोसा (Mario Vargas Llosa) प्रस्तुत है पेरू के प्रख्यात लेखक मारिओ वर्गास लोसा के एक महत्वपूर्ण, रोचक लेख का हिन्दी रूपान्तर । ‘लोसा’ साहित्य के लिए आम हो चली इस धारणा पर चिन्तित होते…

Ramyantar, Translated Articles, Translated Works

पुस्तक को असमय श्रद्धांजलि (The premature obituary of the book)

साहित्य क्यों? (Why Literature?) : मारिओ वर्गास लोसा (Mario Vargas Llosa) प्रस्तुत है पेरू के प्रख्यात लेखक मारिओ वर्गास लोसा के एक महत्वपूर्ण, रोचक लेख का हिन्दी रूपान्तर। ‘लोसा’ साहित्य के लिए आम हो चली इस धारणा पर चिन्तित होते…