कुछ दिनों पहले गुरुदेव की गीतांजलि के भावानुवाद के क्रम में  उनके गीत “This is my prayer to thee..” का बाबूजी द्वारा किया भावानुवाद ” है महाराज प्रार्थना यही ” इस ब्लॉग पर प्रकाशित हुआ था। इस गीत को अर्चना जी ने अपना स्वर दिया है। अर्चना जी अपने ब्लॉग ’मेरे मन की’ पर निरंतर इस प्रकार की कई साहित्यिक रचनाओं के पॉडकास्ट प्रस्तुत करती रहती हैं। प्रस्तुत है उनके स्वर में गीतांजलि का यह भावानुवाद-


है महाराज प्रार्थना यही : अर्चना चावजी