चाहता था न रोऊँ – पर हार कर अब, शोक..